RAM Full Form in Hindi, RAM Kya Hota Hai

हम जब भी कई मोबाइल और लैपटॉप खरीदने के लिए जाते है तब हम सबसे पहले उसमे Ram कितने GB का है देखते है। लेकिन क्या आपको रैम क्या होता है और Ram Full Form पता है। मैंने देखा है की ज्यादा तर लोगो को ram ka full form भी नहीं पता होता, लोग सिर्फ रैम कितने Gb का होता यह जानते है। 

आज के इलेक्ट्रॉनिक योग में रैम एक बहुत ही जरूरी चीज़ है। उसके जरूरी लगवग हर छोटे बढे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में पड़ता है। इस लिए हमे रैम के बारे में बेसिक जानकारी होना चाहिए, जैसे की ram full form in computer, ram full form in hindi और रैम फुल फॉर्म।

RAM Full Form

आपको बता दू की Ram और Rom दोनों अलग अलग चीज़ है। इस पोस्ट पर मैं आपको रैम क्या है और रैम का फुल फॉर्म बताऊंगा। और अगर आपको Rom के बारे में जानना है तोह इस इस आर्टिकल को पढ़े- Rom Ka Full form

रैम अलग अलग साइज और प्रकार के होते है होते है। जैसे की मोबाइल में लिए अलग तरह के रैम होता है और मोबाइल के लिए अलग तरह का रैम यूज़ होता है। लेकिन सभी डिवाइस पर रैम का बिलकुल  ही होता है।

Ram Full Form in Computer and Mobile.

रैम का फुल फॉर्म होता है- Random Access Memory। Ram ki Full Form हिंदी में होता है- यादृच्छिक अभिगम स्मृति

R Random
A Access
M Memory

RAM in Hindi, Ram Kya Hota Hai

जैसे की ऊपर मैंने आपको बताया की रैम का फुल फॉर्म होता है- Random Access Memory. यह नाम से आपको इतना तोह पता चल ही गया होगा की रैम एक तरह का मेमोरी हे। लेकिन यह मेमोनी आपके SD Card Memory की तरह नहीं होता है।

जब आप किसी Application/Software को मोबाइल/कंप्यूटर में ओपन करते हो तब Ram काम में आता है। लेकिन रैम में कई फाइल और एप्लीकेशन जमा नहीं होगा। जब भी आप किस फाइल या एप्लीकेशन को अपने सिस्टम में सेव करते है तब वह डिवाइस में नॉर्मल Hard Drive और SD Card में भी स्टोर होता है। इसके बाद जब आप किसी फाइल को अपनी डिवाइस में ओपन करते हो तब वह फाइल स्टोरेज से कॉपी हो कर रैम में चला आता है और रैम से CPU पर जाता है।

यह इस लिए होता है क्योंकि Ram हमारे नार्मल मेमोरी (हार्डडिस्क) से कई गुना फ़ास्ट होता है। अगर यह काम कई डिवाइस रैम के बगैर करेगा तोह वह डिवाइस बहुत ही स्लो होगा, इतना स्लो की आप उसको चला ही नहीं पड़ोगे। काम हो जाने के बाद जब आप Save करते हो तब वह फाइल कॉपी रैम से HardDisk पर चला आता है और सेव हो जाता है। और जब आप किसी एप्लीकेशन को डिवाइस से Close करते हो तब वह रैम पूरी तहा हैट जाता हे। यह भी पढ़े- UPS Full Form in Hindi.

जैसे की मैं आपको बताया की RAM बहुत ज्यादा फ़ास्ट होता है एक नार्मल हार्डडिस्क से शयेत इसी लिए रैम का प्राइस या बोले तोह रैम को बनाने की खर्चा बहुत ज्यादा होता है। एक 64GB नार्मल मेमोरी बनाने में जितना खर्चा आता है लगवग उतना ही खर्चा एक 1GB RAM बनाने में आता हे।

About the Author: Pradip Mandal

मेरा नाम है Pradip Mandal, मैं इस वेबसाइट का मालिक और राइटर हु। हमारे बारे में और जानने के लिए इस लिंक पर पाए - अबाउट पेज

You May Also Like

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *